How does the Magician make a stick from the napkin? जादुगर रुमाल से छड़ी कैसे बना देता है ? Part 1

बचपन में जादू का खेल देखना सबको अच्छा लगता है. जादूगर अपने हाथ की सफ़ाई से कुछ चीज़ों को ग़ायब कर देता है. तो कभी रूमाल से कबूतर बना देता है और कभी, इंसान की गर्दन ही अलग कर देता है. जब भी हम जादूगर को कोई जादू करते देखते हैं तो यही सवाल मन में उठता है कि कैसे वह यह सब कर लेता है। कैसे एक खाली बॉक्स से कोई चीज निकाल देता है? कैसे एक बंद बोतल के अंदर कोई चीज पहुंचा देता है? ये अजब करिश्मे देख कर बच्चे तो हैरान होते ही हैं, कई बार बड़े भी इसे सच मान लेते हैं और इसे एक कला के तौर पर देखते हैं. लेकिन सवाल उठता है कि क्या जादू जैसी कोई चीज़ होती है? या नहीं?

मनोवैज्ञानिक मानते हैं कि हमारा दिमाग़ एक खास तरीक़े से काम करता है. हमारा दिमाग़ जिस चीज़ के बारे में सोचता है उसके मुताबिक़ ही हमारी आंखों का रेटीना दिमाग में उसकी तस्वीर उकेर देता है. यही वजह है कि कभी कभी हमारा दिमाग़ अंधेरे में भी कुछ तस्वीरें बना लेता है. ऐसा वहां ज़्यादा होता है, जिस जगह से हम वाकिफ़ होते हैं. जहां हमें ये पता होता है कि यहां क्या क्या सामान रखा है.

लेकिन जिस जगह से हम ना वाकिफ़ होते हैं जहां ये पता ही नहीं होता कि वहां कौन हो सकता है? क्या सामान हो सकता है? तो ऐसे में दिमाग़ किसी किसी चीज़ को छूते हुए कोई तस्वीर बनाता है. कई बार ये तस्वीर एकदम साफ़ होती है. तो, कई बार कोई तस्वीर बन ही नहीं पाती. कहने का मतलब ये हुआ कि हम जो सोचते हैं और जो देखना चाहते हैं, हमारा दिमाग़ उसी दिशा में काम करता है. यानी जादू जैसी कोई चीज़ नहीं होती. हमारा दिमाग़ तो बस किसी के हाथ की सफ़ाई का शिकार हो जाता है. तो हम आपको एक एक जादू का रहस्य दिखाएंगे है। आप भी सीख सकते है और सबको दिखा सकते है। जादुगर रुमाल से छड़ी कैसे बना देता है ? आप भी देखिए यह मजेदार विडियो:

Hindi to English translate by Google Translate.

Everyone loves to see magic games in childhood. The magician destroys some things from scratching his hands. Occasionally a dove makes a handkerchief and sometimes separates the human neck Whenever we see some magician doing some magic, the same question arises how he does all this. How does an empty box remove something? How does something inside a closed bottle? Children are amazed to see this strange charisma, sometimes they also think that it is true and see it as an art form. But the question arises, is there something like magic? or not?

Psychologists believe that our brain works in a certain way. What our mind thinks about, retina of our eyes keeps her picture in the brain. This is the reason that sometimes we get some pictures in the dark in our brain. It is much more than the place we know. Where do we know what stuff is kept here

But from this place we do not know where it is, who can be there? If things can happen then in such a way the mind makes a picture by touching something. Many times these pictures are very clear, so a picture can not be made several times. This is to say that our mind works in the same direction as we think and what we want to see. There is no such thing as magic, our mind is just a victim of cleaning someone's hands Then we will show you the secret of a mystery. How the magician has made a stick from the napkin? You can also teach and show everyone.

Recent Posts
Archive
Follow Us
  • download
  • Amazon Social Icon
  • Instagram Social Icon
  • Blogger Social Icon
  • YouTube Social  Icon
  • LinkedIn Social Icon
  • Facebook Basic Square
  • Twitter Basic Square
This site was designed with the
.com
website builder. Create your website today.
Start Now